Type Here to Get Search Results !

कुख्यात बदमाश रज्जाक के घर मिला पांच राइफल समेत हथियारों का जखीरा, जिला अदालत में घुसे सैकड़ों गुड़ों और वकीलों में हुई झड़प





 जबलपुर।   हिस्ट्रीशीटर अब्दुल रज्जाक की गिरफ्तारी के बाद उसे जिला अदालत में भी पेश किया गया, अदालत में पेशी के दौरान रज्जाक के समर्थकों ने कथित तौर पर अधिवक्ताओं के साथ बदसलूकी की। अधिवक्ता और रज्जाक के समर्थकों के बीच झड़प के नजारे भी कैमरे में कैद हुए, जिससे नाराज अधिवक्ताओं ने अदालत की सुरक्षा पर सवाल खड़े कर दिए।


 हिस्ट्रीशीटर और कुख्यात बदमाश अब्दुल रज्जाक और उसके भतीजे शहनवाज को जैसे ही पुलिस जिला अदालत लेकर पहुंची तभी अधिवक्ता और रज्जाक समर्थक आमने-सामने आ गए। कहा जा रहा है कि रज्जाक के साथ सैकड़ों की तादाद में लोग जिला अदालत में दाखिल हो गए थे जिसका कुछ अधिवक्ताओं ने विरोध किया जिससे विवाद के हालात बन गए। विवाद इतना बढ़ा कि देखते ही देखते दोनों पक्षों में मारपीट की नौबत आ गई। 


अधिवक्ताओं और रज्जाक समर्थकों के बीच झूमा झटकी और झड़प काफी देर तक चलती रही। पुलिस ने बीच-बचाव कर दोनों पक्षों को अलग कर दिया। गुस्साए वकीलों ने आरोप लगाया है कि अदालत की सुरक्षा इन दिनों भगवान भरोसे है। उन्होंने आरोप लगाया है कि हिस्ट्रीशीटर रज्जाक अब्दुल रज्जाक के साथ दो से ढाई सौ असामाजिक तत्वों ने न्यायालय की सुरक्षा तोड़कर भीतर प्रवेश किया और गुंडागर्दी पर उतारू हो गए। 


 

 हिस्ट्रीशीटर अब्दुल रज्जाक और उसके भतीजे को भारी सुरक्षा के बीच अदालत में पेश किया गया जहां से दोनों को न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया गया है। इधर जिला कलेक्टर कर्मवीर शर्मा ने भी एसपी के प्रतिवेदन पर मुहर लगाते हुए अब्दुल रज्जाक को राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम यानी एनएसए के तहत 3 माह के लिए जेल में निरुद्ध करने के आदेश जारी कर दिए हैं। इसके पहले साल 2012 में भी अब्दुल रज्जाक के खिलाफ एनएसए की कार्रवाई की गई थी।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Below Post Ad