Type Here to Get Search Results !

अमेरिका की बड़ी घोषणा : 14.4 करोड़ डॉलर देकर अफगानिस्तान करेगा बड़ी मददत |

 अफगानिस्ताान में तालिबान का शासन लागू  होने पर, अफगानिस्ताान की जनता को हुआ परेशानी | लोगो के पास मूलभूत सुविधाओ  का अभाव है | 

अफगानिस्तान में मानवीय संकट के बीच अमेरिका ने अफगानियों को शरण देने वाले देशों को धन्यवाद दिया और अफगान के लोगों के लिए अपनी सीमाएं खुली रखने की अपील की।  ऐसे में लोगों की मदद के लिए अमेरिका ने 14.4 करोड़ डॉलर की मानवीय सहायता देने की घोषणा की है। इसको लेकर अमेरिकी विदेश मंत्री एंटोनी ब्लिंकन ने बीते गुरुवार को जानकारी दी।


उन्होंने कहा कि सहायता स्वतंत्र अंतरराष्ट्रीय और गैर-सरकारी मानवीय संगठनों को सीधे प्रदान की जाएगी, जिनमें शरणार्थियों से जुड़ा संयुक्त राष्ट्र उच्चायुक्त (यूएनएचसीआर), संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (यूनिसेफ), अंतरराष्ट्रीय आव्रजन संगठन (आईओएम) और विश्व स्वास्थ्य संगठन शामिल हैं।

ब्लिंकन ने अपने बयान में कहा, ‘‘इस सहायता राशि के तहत क्षेत्र के 1.8 करोड़ से अधिक जरूरतमंद अफगानिस्तान के लोगों को सीधे मदद मुहैया कराई जाएगी। इसमें वो लोग भी शामिल हैं जो अफगानिस्तान से पड़ोसी देशों में शरण ले चुके हैं।’’ ब्लिंकन ने कहा कि इसके सहायता राशि की घोषणा के साथ ही, अफगानिस्तान में और इस क्षेत्र में अमेरिकी मानवीय सहायता 2021 के तहत अफगान शरणार्थियों के लिए कुल राशि बढ़कर लगभग 47.4 करोड़ डॉलर हो गई। यह किसी भी देश द्वारा सहायता देने के मामले में सबसे अधिक है।
विदेश मंत्री ने कहा, ‘‘इस मदद से हमारे भागीदारों को मूलभूत सुविधाओं की जरूरतें पूरी होंगी। जिनमें कोविड-19, सूखा, स्वास्थ्य देखभाल की कमी, कुपोषण और सर्दियों के मौमस में जरूरी जीवन सुरक्षा, भोजन की व्यवस्था, जरूरी मेडिकल सेवा मिल सकेगी।’’

सहायता राशि से तालिबान को लाभ मिलने के संदेह पर ब्लिंकन ने कहा कि ‘‘इस राशि से तालिबान को नहीं अफगानिस्तान के लोगों को लाभ होगा।अफगानिस्तान  हालत से उसके पडोसी देशो ने लबे समय तक दुनिया की सबसे बड़ी और सबसे लाबी शरणार्थी  परिस्थितियों का सामना करना  पड़ा, ब्लिंकन ने इस बात को जोर देते हुए कहा | 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Below Post Ad