Type Here to Get Search Results !

त्योहारों की सीजन से पहले राहत नजर आयी : 230 दिन बाद सबसे कम कोरोना मामले सामने आया, एक्टिव केस भी दो लाख से नीचे |

230 दिन,करीब आठ महीने के बाद सबसे कम कोरोना पॉसिटिव मरीज सामने आ रहा हैं। त्योहारों से ठीक पहले यह राहत के संकेत है। 

त्योहारों का सीजन शुरू हो चुका है। कुछ दिन बाद धनतेरस, दीपावली और छठपूजा जैसे महापर्व भी नजदीक आ रही हैं। ऐसे में राहत की बात यह है कि देश में कोरोना की स्थिति में लगातार सुधार हो रहा है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से सोमवार को जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार, बीते 24 घंटों में 230 दिन यानी आठ महीने बाद पहली बार कोरोना के सबसे कम मरीज सामने आए हैं। 24 घंटों में 13,596 संक्रमित दर्ज किए हैं। रविवार को यह आंकड़ा 14,146 था। 

लगातार घटते कोरोना मरीजों की संख्या के कारण देश में एक्टिव केस में राहत नजर आ रही हैं संख्याे में भी तेजी से सुधार हो रहीं हैं। अच्छी बात यह है कि अब एक्टिव केस की संख्या दो लाख से नीचे पहुंच चुकी है। सोमवार को जारीकर्ताओ के मुताबीत आंकड़ों के तहत देश में इस समय कुल 1,89,694 संक्रमित हैं।

166 लोगो की मौत बीते 24 घंटे में -: स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के मुताबिक बीते 24 घंटे में देशभर में 166 मौतें हुई हैं। इसके बाद कोरोना से कुल मरने वालों की संख्या 4,52,290 पहुंच गई है।रविवार को सामने आए नए मामलों के बाद कुल संक्रमितों की संख्या 3,40,81,315 हो गई है। 

जांच में एक लाख तक घट गई -: कोरोना संक्रमितों की संख्या में गिरावट की राहत की जरूर बात हो, लेकिन दूसरा तथ्य यह भी है देश में कोरोना की जांच भी तेजी से घट गई है। ताजा जानकारी के मुताबिक एक लाख तक जांच कम हो गयी है। चार अक्तूबर तक दैनिक जांच में करीब सात लाख से अधिक सैंपल की आरटीपीसीआर जांच की जा रही थी। अब यह संख्या लगातार घट रही है। पिछले एक से दो दिनों में 11 में से केवल छह लाख सैंपल की जांच आरटीपीसीआर के जरिए हुई। अब तक 59.09 करोड़ सैंपल की जांच हो चुकी है। आईसीएमआर के विशेषज्ञों का मानना है कि आरटीपीसीआर जांच कम होने से मिसिंग केस लगातार बढ़ रहे हैं। इनसे संक्रमण फैलने का खतरा है। रिपोर्ट में चौंकाने वाली बात यह सामने आई है कि त्योहारों के दौरान बिहार व आंध्र प्रदेश में एक भी सैंपल की आरटीपीसीआर तकनीक से जांच नहीं किया गया हैं। 



एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Below Post Ad