Type Here to Get Search Results !

महाराष्ट्र सरकार ने केंद्र सरकार को टीकाकरण की रफ्तार को बढ़ाने का सुझाव दिया |

कोरोना के टीकाकरण की रफ्तार बढ़ाने और टारगेट पूरा करने को महाराष्ट्र सरकार ने केंद्र सरकार को दो डोज के बीच गैप कम करने की तरकीब सुझाई है।

 

30 नवंबर तक अपने 91.44 मिलियन (करीब 9 करोड़ 14 लाख) आबादी का शत प्रतिशत टीकाकरण करने के लक्ष्य को पूरा करने के लिए महाराष्ट्र सरकार ने केंद्र से कोविशील्ड की दो खुराकों के बीच के अंतर को कम करने पर विचार करने को कहा है। अधिकारियों ने कहा कि राज्य सरकार ने कहा है कि इससे उन्हें टीकाकरण में तेजी लाने में मदद मिलेगी। 

स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने गुरुवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया के साथ अपनी वर्चुअल बैठक के दौरान कहा कि मंत्रालय को कोविशील्ड वैक्सीन के दो शॉट्स (खुराक) के बीच के अंतर को कम करने पर विचार करना चाहिए। टोपे ने मंत्री को टीकाकरण अभियान को बढ़ावा देने के लिए राज्य में चल रहे कार्यक्रम से भी अवगत कराया। अन्य राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के स्वास्थ्य मंत्रियों ने भी बैठक में भाग लिया।

मंत्री टोपे ने कहा कि राज्य सरकार 30 नवंबर तक सभी 91.44 मिलियन योग्य आबादी को कम से कम एक खुराक देने के लिए काम कर रही है। टोपे के हवाले से राज्य सरकार के एक बयान में कहा गया है, 'कोविशील्ड वैक्सीन की दो खुराक के बीच के अंतर को कम करके टीकाकरण की गति को तेज किया जा सकता है। केंद्रीय मंत्रालय को इस सुझाव पर विचार करना चाहिए।' 

उन्होंने कहा कि राज्य ने टीकाकरण को बढ़ावा देने के लिए मिशन कवच कुंडल, मिशन युवा स्वास्थ्य जैसे कार्यक्रम शुरू किए हैं। बता दें कि 11 नवंबर को रात 8 बजे तक महाराष्ट्र ने 101201,096 खुराक दी, जिनमें से कम से कम एक खुराक 68,512,744 लाभार्थियों को दी गई, जबकि 3,26,88,352 लोगों को पूरी तरह से टीका लगाया गया है।

इसके लिए राय नेताओं और धर्मगुरुओं के सहयोग से प्रयास किए जा रहे हैं। बता दें कि महाराष्ट्र में बृहस्पतिवार को कोविड-19 के 997 नये मामले सामने आये जबकि 28 और मरीजों की संक्रमण से मौत हो गई। इससे राज्य में संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 66,21,420 हो गई जबकि मृतक संख्या बढ़कर 1,40,475 हो गई। यह जानकारी राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने दी।टीकाकरण के बारे में नागरिकों की शंकाओं को दूर करने के लिए लोगों को जागरूक किया जा रहा है। 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Below Post Ad