Type Here to Get Search Results !

More than 800 processions taken out in UP on Ram Navami: दंगा-फसाद तो छोड़िए झगड़ा तक नहीं हुआ

More than 800 processions taken out in UP on Ram Navami: दंगा-फसाद तो छोड़िए झगड़ा तक नहीं हुआ

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ में लालजी टंडन की जयंती पर कहा कि रामनवमी पर यूपी में 800 से ज्यादा जगहों पर जुलूस निकाले गए लेकिन कहीं भी कोई तू-तू मैं-मैं नहीं हुई, दंगे-फसाद की बात तो दूर है।




उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को बड़ा बयान दिया है। उन्होंने अपने राज्य के प्रशासन की तारीफ करते हुए कहा कि रामनवमी पर यूपी में 800 से ज्यादा जगहों पर जुलूस निकाले गए लेकिन कहीं कोई झगड़ा तक नहीं हुआ। दंगा-फसाद तो दूर की बात है। 


लखनऊ में लालजी टंडन की जयंती पर सीएम योगी ने एक कार्यक्रम को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि परसों रामनवमी थी, यूपी में 25 करोड़ की आबादी रहती है। 800 स्थानों पर रामनवमी पर शोभा यात्रा थी जूलुस भी थे। साथ-साथ इस समय रमजान का महीना चल रहा है, रोजा इफ्तार के भी कार्यक्रम रहे होंगे।


सीएम योगी ने आगे कहा कि कहीं भी कोई तू-तू मैं-मैं नहीं हुई, दंगे-फसाद की बात तो दूर है। ये उत्तर प्रदेश की विकास की नई सोच को प्रदर्शित करता है।  यहां दंगा-फसाद के लिए कोई जगह नहीं है, अराजकता के लिए गुंडागर्दी के लिए और अफवाह के लिए कोई जगह नहीं है। उत्तर प्रदेश में रामनवमी के अवसर पर मर्यादा पुरुषोत्तम राम की पावन जयंती के अवसर पर यह साबित किया है। 

इससे पहले, सीएम योगी ने ट्वीट करते हुए लिखा था कि लालजी टंडन का व्यक्तित्व सकारात्मक राहों को आगे बढ़ाने का एक माध्यम था। अतः हर एक कार्यकर्ता उन पर गौरव की अनुभूति करता था। किसी की कहीं भी सुनवाई नहीं होती थी तो 'बाबूजी' उसके लिए उपलब्ध रहते थे। केवल भाजपा ही नहीं, अन्य दल व समुदाय के लोग भी उनके पास जाते थे।

सीएम योगी ने लिखा कि लालजी टंडन आज भौतिक रूप से भले हम लोगों के बीच में नहीं हैं, लेकिन वे अपने कार्यों, लेखन व स्मृतियों के माध्यम से सदैव जीवंत रहेंगे। उनकी जयंती के अवसर पर यूपी सरकार की ओर से उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए उनकी स्मृतियों को कोटि-कोटि नमन करता हूं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Below Post Ad