Type Here to Get Search Results !

Thousands of Devotees Gathered in Mata's Temple: 2 अप्रैल से नवसंवत्सर 2079 और चैत्र नवरात्रि की शुरू हुई है

Thousands of Devotees Gathered in Mata's Temple: 2 अप्रैल से नवसंवत्सर 2079 और चैत्र नवरात्रि की शुरू हुई है

चैत्र प्रतिपदा शुक्ल पक्ष से ही हिंदू नववर्ष का प्रारंभ होता है। ज्योतिषाचार्य के मुताबिक, पूरे साल न्याय व्यवस्था दुरुस्त रहेगी और लोग प्रगति करेंगे। 

कोरोना के दो सालों से जो पाबंदियां चली आ रही थीं वह अब देश के अधिकतर हिस्सों से हटा ली गई हैं और इसीलिए इस बार का नवरात्रि भक्तों के लिए बेहद खास है। यही वजह है कि शनिवार सुबह से ही जम्मू से लेकर पटना और दिल्ली से लेकर मुरादाबाद तक देवी मंदिर के बाहर और अंदर भक्तों का रेला दिखाई दे रहा है।




लोगों में गजब का उत्साह दिखाई दे रहा है और हजारों की संख्या में मंदिरों के बाहर भीड़ देखी जा सकती है। आगे देखें उत्तर भारत के तमाम शहरों की तस्वीरें कि कैसे भक्तों की भीड़ बिना किसी चिंता के माता के दरबार में दर्शन के लिए जुटी है

नवरात्रि का पहला दिन होने के चलते जम्मू के कटड़ा के रियासी में भक्त मंदिर का दर्शन करने पहुंचे

रियासी में भक्त बड़ी संख्या में माता का दर्शन करने पहुंचे। यहां लोगों में खासा उत्साह है क्योंकि दो साल बाद दर्शन करने के दौरान कोई बंदिश नहीं है।

पटना में लोग नवरात्रि का पहला दिन और नए संवत की शुरुआत होने के चलते हवन करते हुए।

मुरादाबाद में एक देवी मंदिर के बाहर हजारों की संख्या में दर्शन करने पहुंचे श्रद्धालु। यहां इतनी भीड़ इसलिए भी है क्योंकि न कोरोना का कोई डर है और न ही कोई पाबंदी।




एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Below Post Ad